मुझ में भी... इक सागर

हां! सिमटा है 

मुझमें भी,,,

   ... इक सागर।


जो रह कर मौन

करता है समाहित

खुद में,,,

अनगिनत 

... तर्कों- वितर्कों को।


नदियों समान

लोग लाते हैं संग अपने 

कभी मीठे पानी की तरलता

और कभी

    ...कचरा और गरल ।


जब कुतर्कों से हो उत्पन्न 

"वेग - द्वेष"

कई बार सुलग पड़ती हूं मैं,

जब खौलने लगता है खून

तब सागर समान

बन सुनामी और

कभी ज्वालामुखी

   ...फट पड़ती हूं मैं।


पर अक्सर-आदतन

समेटने रिश्तों की सीपियाँ

लहरों के हलके उतार - चढ़ाव सम

पी जाती हूं गरल

    ... चुपचाप


सच में,,,

बहुत कठिन है

जलधि सा बनना

चाहिए इसके लिए 

गहराई, विशालता और

 ... आत्मसात का गुण।।

  अंजु गुप्ता, हिसार, हरियाणा

आपका आधार कार्ड नकली तो नहीं? तुरंत ऐसे करें चेक



आप कहीं नकली आधार का तो इस्तेमाल नहीं कर रहे और इस वजह से कई सरकारी योजनाओं में आवेदन करने के बाद भी आपको उसका लाभ नहीं मिल पा रहा? नकली आधार सुनकर आपका चौंकना लाजमी है पर ये सच है कि आधार भी नकली हो सकता है। यह हम नहीं कह रहे बल्कि आधार से जुड़ी सेवाएं देखने वाली अथॉरिटी यूआईडीएआई कह रही है। यूआईडीएआई  का कहना है कि हर 12 डिजिट वाला नंबर आधार नहीं होता है। बहुत हद तक संभव है कि आपको आधार नंबर के नाम पर कोई फेक नंबर बता दिया गया हो। इसलिए अथॉरिटी किसी भी आधार नंबर को वेरिफाई करने की सुविधा उपलब्ध कराती है।

आपका आधार कार्ड असली है या नकली, अब एक क्लिक पर पता कर सकेंगे। यह सुविधा UIDAI ने https://resident.uidai.net.in/aadhaarverification वेबसाइट पर दी है। इसमें आधार नंबर भरकर पता चल जाएगा कि जो आधार नंबर उनको मिला है वो सही है या नहीं। इसमें आधार कार्ड वाले की उम्र का 10 साल का अंतर का रिकॉर्ड भी होगा। असली-नकली आधार को आप ऐसे चेक कर सकते हैं....

  • आधिकारिक वेबसाइट www.uidai.gov.in पर जाएं। इसके अलावा आप सीधे https://resident.uidai.gov.in/verify पर भी विजिट कर सकते हैं।
  • इसके बाद My Aadhaar सेगमेंट के आधार सर्विसेज सेक्‍शन  में वेरिफाई (Aadhaar Verify) आधार नंबर पर क्लिक करें।
  • यहां एक आधार वेरिफिकेशन पेज खुलेगा, आपको एक Text Box दिखाई देगा जहां आपको अपना आधार नंबर डालना होगा।
  •  वेरिफाई पर क्लिक करने के बाद अगर आपके द्वारा डाला गया 12 डिजिट वाला नंबर वाकई आधार नंबर है और डीएक्टिवेट नहीं हुआ है, तो आपके आधार नंबर के मौजूद होने और ऑपरेशनल होने का स्‍टेटस वेबसाइट पर शो होगा। 
  • इसके साथ ही नीचे आपकी पूरी डिटेल होगी वहीं नबंर नकली होगा तो इनवैलिड आधार नंबर लिख कर आएगा।

ग्वारगम की कीमतों में दिख सकती है तेजी, इस तरह बनाएं मुनाफे की रणनीति



व्यापारियों ने वायदा बाजार में ग्वारगम की कीमतों में तेजी की उम्मीद जताई हैं। हालांकि, यह तेजी लंबे समय तक नहीं टिकेगी, क्योंकि मांग के पटरी पर लौटने में समय लग सकता हैं।

भारत ग्वार गम का दुनिया का सबसे बड़ा उत्पादक और निर्यातक हैं। व्यापारियों के निर्यात पर निर्भरता से कीमतों में उतार-चढ़ाव होता हैं। हालांकि, कीमतें 55-65 रुपये प्रति किलोग्राम के दायरे में कई महीनों से बनी हुई हैं।

कम कीमतों ने किसानों को हतोत्साहित किया है। इसलिए किसानों ने चालू खरीफ सीजन के दौरान अन्य फसलों का विकल्प चुना। राजस्थान के ग्वार गम के निर्माता दिलीप सारदा ने कहा, "ग्वार का रकबा कम हो गया है, जिससे हमें उत्पादन पिछले वर्ष की तुलना में 90 लाख बोरी तक कम रहने का अनुमान है।" ग्वार गम की एक बोरी 100 किलोग्राम की होती है।

ग्वार गम मुख्य रूप से राजस्थान, हरियाणा और गुजरात में पैदा होता है। ग्वार सीड का उपयोग ग्वारगम पाउडर के लिए किया जाता है, जिसका ज्यादातर निर्यात किया जाता है। हालांकि, विश्लेषकों को उम्मीद है कि अगले पखवाड़े के भीतर वायदा कीमतों में वृद्धि होगी। एसएमसी ग्लोबल के एक रिसर्च नोट में कहा गया है कि किसानों ने मुख्य रूप से ग्वार के उत्पादन के कारण खरीफ सीजन के दौरान कपास, बाजरा और धान की खेती करना पसंद किया है।


एनसीडीईएक्स पर ग्वार गम वायदा (अक्टूबर अनुबंध) 6,300-6,350 रुपये प्रति क्विंटल तक जा सकता है, जबकि 6,150 रुपये प्रति क्विंटल के पास इसे सपोर्ट मिलेगा। वर्तमान परिदृश्य में, मिलर्स नए ग्वार सीड को उच्च नमी के साथ पसंद कर रहे हैं क्योंकि नए बीज से बने पाउडर में चिपचिपाहट अधिक होगी।

सारदा ने कहा कि ग्वार गम की कीमतों में तेजी लंबे समय तक कायम नहीं रह सकती। उन्होंने कहा, '' इस साल बकाया स्टॉक काफी ज्यादा है जबकि तेल उद्योग की मांग धीरे-धीरे ही बढ़ेगी.'' तेल ड्रिलिंग उद्योग ग्वार गम का मुख्य उपयोगकर्ता है‌। इस उद्योग पर कोरोना की महामारी की बुरी मार पड़ी है। श्री राम कॉलोइड्स के निदेशक दिलीप सोनी ने कहा, “पिछले छह महीनों के दौरान तेल उद्योग से शायद ही कोई मांग आई हैं।”

सोनी ने कहा कि इंडस्ट्री ने हाल ही में रिकवरी के कुछ संकेत देखे हैं। उन्होंने कहा, "रिकवरी के कुछ संकेतों को देखने के बाद, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को कोविड -19 मिलने की खबर पर तेल की कीमतें फिर से गिर गई हैं। इसलिए, मांग की भविष्यवाणी करना मुश्किल है।"

SBI खाताधारकों के लिए अच्छी खबर, आपका डेबिट कार्ड बन गया है ज्यादा दमदार



अगर आप देश के सबसे बड़े स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) के खाताधारक है तो एक और अच्छी खबर आ गई हैं। इस त्योहारी मौसम में आपको अपनी खरीदारी के लिए बैंक बैलेंस देखने की जरूरत नहीं हैं। एसबीआई अपने खाताधारकों को जारी किए गए डेबिट कार्ड (Debit Card) में एक खास सुविधा दे रहा हैं। 

डेबिट कार्ड में ईएमआई सुविधा
स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के अनुसार खाताधारकों को दिए गए डेबिट कार्ड को और दमदार बना दिया गया हैं। बैंक के अनुसार डेबिट कार्ड्स अब ईएमआई (EMI) सुविधा के साथ दिए जा रहे हैं। इसका फायदा उन ग्राहकों को होगा जो होम अप्लायंसेज (Home Appliances) या ऑनलाइन शॉपिंग (Online Shopping) करना चाहते हैं। ग्राहक अपनी खरीदारी को तत्काल आसान किस्तों में कंवर्ट करा सकते हैं।

जानकारी के मुताबिक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया खाताधारकों को दिए जाने वाले डेबिट कार्ड में प्री अप्रूव्ड (Pre approved) ईएमआई सुविधा दे रहा हैं। आपको ये सुविधा मिल रही है या नहीं, इसकी जानकारी बैंक से ली जा सकती हैं। संभावना है कि कई डेबिट कार्ड्स में ये सुविधा उपलब्ध नहीं हो।

फ्लिपकार्ट और अमेजन सेल में उठा सकते हैं लाभ
जानकारों का कहना है कि एसबीआई ने अपने चुंनिदा ग्राहकों के लिए प्री अप्रूव्ड ईएमआई की सुविधा ऑनलाइन शॉपिंग के लिए भी दी हैं। ग्राहक सबसे पॉपुलर ऑनलाइन शॉपिंग प्लेटफॉर्म्स फ्लिपकार्ट और अमेजन में ये सुविधा ले सकते हैं।