भूल जाओ अमेजॉन और फ्लिपकार्ट, यहां से करें ऑनलाइन शॉपिंग

d6newstv@gmail.com Hitender Choudhary



ऑनलाइन शॉप‍िंग करने वालों के ल‍िए अच्‍छी खबर है। जी हां अब आप जल्द ही सरकारी ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म पर शॉपिंग कर सकेंगे। सरकार इस प्लेटफॉर्म को आम लोगों के लिए भी खोलने जा रही है। यानी अमेजन और फ्लिपकार्ट की तरह लोग गवर्नमेंट ई-मार्केटप्लेस (GeM) पर भी अपने ऑर्डर प्लेस कर सकेंगे। अभी इस प्लेटफॉर्म से सिर्फ सरकारी विभाग और पब्लिक सेक्टर यूनिट ही खरीदारी कर सकती हैं। इस योजना के तहत उपभोक्ता और बिजनेस जीईएम पर लिस्ट कंपनियों से उत्पाद खरीद सकेंगे। अभी तक इसमें बिजनेस-टू-बिजनेस (बी2बी) रिटेल की सुविधा मौजूद थी। अब इसमें बिजनेस-टू-कंज्यूमर (बी2सी) रिटेल ऑप्शन भी जोड़ा जाएगा।
Hitender Choudhary editor.hitender@d6news.in

प्लेटफॉर्म पर 37 हजार से ज्यादा बायर्स जानकारी के मुताबिक, सरकार ऑनलाइल मार्केटप्लेस के लिए बेंचमार्क तय करना चाहती हैं, लिहाजा इसे आदर्श प्लेटफॉर्म बनाने की तैयारी की गई है। जीईएम यह एक सरकारी ऑनलाइन प्लेटफॉर्म है जो किसी भी प्रकार का सामान और सेवाएं प्रदान करने के लिए एक माध्यम की भूमिका निभाता है। 2016-17 में स्थापना के बाद से इस प्लेटफॉर्म पर सेलर्स और बायर्स की संख्या लगातार बढ़ रही है। आज इस प्लेटफॉर्म पर 37 हजार से ज्यादा बायर्स और 2.5 लाख से ज्यादा सेलर और सर्विस प्रदाता रजिस्टर्ड हैं।
रुपए के पार बता दें कि इस प्लेटफॉर्म पर 10 लाख से ज्यादा उत्पाद और 13 हजार से ज्यादा सेवाएं उपलब्ध हैं। पहले साल इस प्लेटफॉर्म पर 420 करोड़ रुपए के ऑर्डर दिए गए जो दूसरे साल बढ़कर 6 हजार करोड़ रुपए पर पहुंच गए। तीसरे साल 2018-19 में जीईएम पर कुल ऑर्डर 32 हजार करोड़ रुपए के पार पहुंच गए। वित्त वर्ष 2018-19 में इस पोर्टल पर करीब 17,000 करोड़ रुपए का ट्रांजेक्शन हुआ। जीईएम ने इस साल अपने ऑर्डर 1 लाख करोड़ के करीब पहुंचाने का लक्ष्य तय किया है। जीईएम पोर्टल पर ऑफिस स्टेशनरी से लेकर व्हीकल्स तक कई प्रॉडक्ट्स की बिक्री होती है। टॉप प्रॉडक्ट कैटेगरी में ऑटोमोबाइल्स, कंप्यूटर और ऑफिस फर्नीचर शामिल है। सर्विसेज में ट्रांसपोर्टेशन, लॉजिस्टिक्स, वेस्ट मैनेजमेंट, वेब कास्टिंग और एनालिटिकल आदि शामिल हैं।